प्रेगनेंसी के 25 लक्षण

ज्यादातर महिलाओं को इस बात का अंदाजा तक नहीं लग पाता है कि उनका गर्भ ठहर चुका है, लेकिन सामान्यतः कुछ बातें इस बात का इशारा करती हैं कि आप गर्भवती हो चुकी हैं. अगर आपने अभी हाल हीं में बिना गर्भनिरोधक या बिना कन्डोम के सम्भोग किया है, तो आप गर्भवती हो सकती हैं. आपमें आने वाले कुछ बदलाव आपको यह बता देंगे कि गर्भ ठहरा है या नहीं. अगर आप अपनी इच्छा से गर्भवती हुई हैं, तो यह आपके लिए एक अच्छी खबर है. गर्भवती होने पर एक स्त्री के शरीर, मन और Mood में कई बदलाव आने लगते हैं.तो आइए जानते हैं क्या हैं, गर्भवती होने के लक्षण.

गर्भवती होने के सामान्य लक्षण :

  1. मासिक धर्म का बन्द हो जाना.
  2. गर्भावस्था के पहले सप्ताह में आपको बार-बार उल्टी हो सकती है.
  3. स्तनों में खुद-ब-खुद दर्द होने लगना भी गर्भवती होने का एक लक्षण हो सकता है.
  4. सिर में दर्द होना भी गर्भ ठहरने का लक्षण हो सकता है.
  5. आप पेट में ऐंठन महसूस कर सकती हैं. ऐसा गर्भ में बच्चे का आकार बढ़ने के कारण होता है.
  6. आपको पीठ में दर्द भी हो सकता है, क्योंकि गर्भावस्था में पॉश्‍चर में परिवर्तन होता है.
  7. गर्भ ठहरने का एक लक्षण यह भी होता है कि सामान्य खाने से आपको अरुचि हो सकती है.
  8. आपके स्वभाव में अक्सर परिवर्तन आ सकता है, यह एक सामान्य बात है.
  9. आपके शरीर का तापमान बढ़ सकता है.
  10. वैसे Period असमान्य अवस्था में भी बंद हो सकता है. लेकिन अगर आप पूरी तरह स्वस्थ्य हैं और आपका मासिक स्राव बंद हो गया है, तो यह आपके गर्भवती होने का एक लक्षण है.
  11. कुछ स्त्रियाँ जब गर्भवती हो जाती है, तो उनके स्तनों से दूध का रिसाव शुरू हो जाता है. स्तनों से दूध का रिसाव होना भी गर्भ ठहरने का एक लक्षण है. स्तन भारी हो जाते हैं, और साथ हीं थोड़े बड़े भी हो जाते हैं.
  12. गर्भ ठहरने पर निपल्स चौड़े और थोड़े बड़े हो जाते हैं. और स्तन भी बड़े होने लगते हैं.
  13. निपल्स का रंग गाढ़ा होने लगता है. स्तनों में सूजन महसूस होने लगता है, उन्हें हल्का भी दबाने पर दर्द होने लगता है.
  14. स्तनों के त्वचा के भीतर नीली और गुलाबी रंग की रेखाओं का आ जाना. बाद में उदर में भी इसी तरह की रेखाओं का उभरना.
  15. मुंह सूखा हुआ और फीका-फीका लगना.
  16. जंघाओं में हल्की पीड़ा का अनुभव होना तथा योनी के भीतरी भाग में फड़कन का आभास होना.
  17. गर्भधारण करने के बाद गर्भावस्था के शुरूआती 3 महीनों में सेक्स करने की इच्छा बढ़ जाती है.  इस दौरान सेक्स किया जा सकता है, लेकिन कुछ सावधानियों के साथ.
  18. खट्टे या चकदार चीजें खाने की बहुत ज्यादा इच्छा होना. हमेशा कुछ न कुछ खाने की इच्छा होना.
  19. गर्भवस्था के पहले तीन महीने में बार-बार पेशाब जाना भी, गर्भ ठहरने का एक लक्षण है.
  20. थोड़ा-बहुत काम करने पर भी बहुत ज्यादा थकान, या ज्यादा अनावश्यक चिड़चिड़ापन आना भी गर्भावस्था में एक सामान्य बात है.
  21. खानपान में बिना किसी बड़े बदलाव के उल्टी या बदहजमी होना भी गर्भ ठहरने का एक लक्षण है.
  22. Pregnancy check करने लिए आप pregnancy kit का इस्तेमाल कर सकती हैं.
  23. गर्भाशय में ऐथन और पेट में उसी प्रकार की पीड़ा जैसा Periods के दौरान होता है.
  24. दर्द तो ठीक है, लेकिन योनी से अगर खून आए तो आपको डॉक्टर से जरुर मिलना चाहिए.
  25. Period में ज्यादा रक्त आना भी गर्भवती होने का लक्षण है. गर्भवस्था में आपको विशेष सावधानी बरतनी चाहिए. और कुछ खास चीजों का पालन करना चाहिए. और इस बात कि पूरी जानकारी जुटानी चाहिए कि आपके खानपान से लेकर आपके विचारों तक का आपने होने वाले बच्चे पर कैसा प्रभाव पड़ेगा. और अगर आप न चाहते हुए गर्भवती हो गईं हैं, तो आपको गर्भपात के घरेलू नुस्खों को आजमाना चाहिए.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *